जीन एडिटिंग / चीनी वैज्ञानिक का दावा- लैब में जुड़वा बच्चे बनाए, फिर जीन में बदलाव किया ताकि एड्स से बचाव हो सके

/ - 3 months ago
वैज्ञानिक ही जियानकुई ने हॉन्ग-कॉन्ग में आयोजित सेमिनार में किया दावा कहा सोसायटी को तय करना होगा कि आगे क्या करना है; रिसर्च में एचआईवी से पीड़ित पुरुषाें और सामान्य महिलाओं से तैयार भ्रूण के जीन में बदलाव कर किया दावा; यूरोप में जीन में बदलाव करना (जीन एडिटिंग) प्रतिबंधित है वहीं अमेरिका में इसे अनैतिक कहा जाता है. Dainik Bhaskar. Nov 27 2018 10:58 AM IST. हेल्थ डेस्क. चीनी वैज्ञानिक ही जियानकुई का दावा है कि उसने लैब में दुनिया का पहला ऐसा मानव तैयार किया है जिसके जीन में बदलाव किया गया है।

वैज्ञानिक के अनुसार उसने जुड़वा बच्चियों के जन्म से पहले ही उनके  ... ...