मनुष्य के सोचने-समझने की क्षमता को बर्बाद कर देती है 'सिजोफ्रेनिया'

news / - 4 weeks ago
दुनिया भर में हजारों लोग सिजोफ्रेनिया से पीड़ित हैं, जो एक गंभीर मानसिक विकार है. यह विकार किसी व्यक्ति की सोच, अनुभव और स्पष्ट रूप से व्यवहार करने की क्षमता को प्रभावित करता है. इस कारण व्यक्ति के सोचने-विचारने की क्षमता पूरी तरह बर्बाद हो जाती है. इस स्थिति के एक भी कारण की अभी तक पहचान नहीं हो पाई है. आस्ट्रेलिया की न्यू साउथ वेल्स यूनिवर्सिटी की प्रोफ़ेसर और रिसर्च करने वाली शैनन वीकर्ट ने इस धारणा को चुनौती दी थी कि प्रतिरक्षा कोशिकाएं मनोविकार के दौरान मस्तिष्क से स्वतंत्र रहती हैं और उन्होंने कहा है कि मानव की प्रतिरक्षा कोशिकाओं में विकार की वजह से  ...
Tags : Hindi-news