UIDAI का आधार सॉफ्टवेयर हैक, डेटाबेस में लगी सेंध : रिपोर्ट

technology / - 4 months ago
पैच नामांकन सॉफ्टवेयर के इन-बिल्ट सिक्यॉरिटी फीचर को अक्षम कर सकता है जिसका मतलब है कि कोई व्यक्ति दुनिया में कहीं से भी- भले ही वह बीजिंग, कराची या काबुल में ही क्यों न बैठा हो, नए यूजर्स का नामांकन करने के लिए सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल कर सकता है।

September 12, 2018 7:52 AM. Share. Next. X. तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है।

(फाइल फोटो). एक अरब से ज्यादा भारतीयों की बायोमीट्रिक्स और व्यक्तिगत जानकारियां रखने वाले आधार डेटाबेस में एक सॉफ्टवेयर पैच के जरिये सेंध लगाई गई है, जिसकी वजह से सिक्यॉरिटी फीचर्स को बंद किया जा  ...
Tags : Hindi-news